Anshu Malik historical silver| अंशुला ऐतिहासिक silver medal

0
29
Anshu Malik historical silver| अंशुला ऐतिहासिक silver medal
Anshu Malik historical silver| अंशुला ऐतिहासिक silver medal

Anshu Malik historical silver, विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाली पहली महिला पहलवान 19 वर्षीय अंशु ने आक्रामक शुरुआत के साथ 1-0 की बढ़त बना ली।

Latest Sport News: भारत को प्रथम महिला के पद के लिए अभी और इंतजार करना होगा। लेकिन युवा पहलवान Anshu Malik ने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में 57 किलोग्राम भार वर्ग में रजत पदक जीतकर इतिहास रच दिया। 2016 ओलंपिक चैंपियन हेलेन लॉसी मारोलिस ने गुरुवार को फाइनल में उन्हें हरा दिया।

विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाली पहली महिला पहलवान 19 वर्षीय अंशु ने आक्रामक शुरुआत के साथ 1-0 की बढ़त बना ली। लेकिन फिर मैच ने नाटकीय मोड़ ले लिया और मारोलिस ने अंशु का कंधा पकड़ लिया और उसे 2-1 की बढ़त लेने के लिए जमीन पर पटक दिया। फिर मारोलिस ने अंशु को पीछे झुकाया और 4-1 से जीत हासिल की। मारोलिस की पकड़ इतनी मजबूत थी कि मैच के बाद अंशु को तत्काल चिकित्सा सहायता लेनी पड़ी। स्वर्ण पदक से चूकने से उसके लिए आंसू बहाना मुश्किल हो गया।

5 गीता फोगट (2012), बबीता फोगट (2012), पूजा ढांडा (2018) और विनेश फोगट ने विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीते। अंशु पांचवीं विश्व पदक विजेता और रजत पदक जीतने वाली पहली महिला पहलवान बनीं।

(Anshu Malik historical silver| अंशुला ऐतिहासिक silver medal)

यह भी पढ़ें: इंडियन प्रीमियर लीग क्रिकेट: पंजाब के खिलाफ चेन्नई का हैवीवेट

‘सॅफ’ फुटबॉल स्पर्धा : भारताला श्रीलंकेनेसुद्धा बरोबरीत रोखले

माले : भारतीय फुटबॉल संघाने ‘सॅफ’ अजिंक्यपद फुटबॉल स्पर्धेत पुन्हा निराशा केली. गुरुवारी जागतिक फुटबॉल क्रमवारीत २०५व्या क्रमांकावर असलेल्या श्रीलंकेने क्रमवारीत १०७व्या क्रमांकावरील भारताला गोलशून्य बरोबरीत रोखले.

गोल करण्याच्या पुरेशा संधी न निर्माण करणे आणि मिळालेल्या संधी वाया दवडणे, या वृत्तीचा फटका सात वेळा ‘सॅफ’ विजेत्या भारतीय संघाला बसला. त्यामुळे दोन सामन्यानंतरही इगोर स्टिमॅच यांच्या मार्गदर्शनाखालील भारतीय संघ विजयापासून वंचित आहे. सोमवारी झालेल्या सलामीच्या लढतीत १० सदस्यीय बांगलादेशने भारताशी १-१ अशी बरोबरी साधल्यामुळे स्टिमॅच यांचे दडपण वाढले होते.

सामन्यात ७५ टक्के चेंडूवर ताबा असतानाही भारताला विजय मिळवण्यात अपयश आले. पहिल्या सत्रातील २२व्या मिनिटाला भारताने गोल साकारण्याची नामी संधी वाया दवडली. उदांता सिंगच्या उजवीकडून दिलेल्या क्रॉसवर लिस्टन कोलॅसोचा हेडरद्वारे गोल करण्याचा प्रयत्न वाया गेला. गुणतालिकेत अव्वल स्थानावर असलेल्या नेपाळशी (६ गुण) रविवारी बरोबरी साधली किंवा पराभव पत्करल्यास भारताला अंतिम फेरी गाठणे कठीण जाईल. राऊंड रॉबिन लीग पद्धतीने होणाऱ्या साखळी सामन्यांअंती अव्वल दोन संघ १६ ऑक्टोबरला अंतिम सामना खेळतील.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here